अध्याय 10: तरंग – प्रकाशिकी

(1) सौर प्रकाश में उपस्थित काली रेखाओं को कहा जाता है –

  • फ्रॉन हॉफर रेखाएँ
  • टेल्यूरिक रेखाएँ
  • दोनों
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर देखे
फ्रॉन हॉफर रेखाएँ

(2) इन्द्रधनुष प्राकृतिक उदाहरण है।

  • अपवर्तन का
  • परावर्तन का
  • अपवर्तन, परावर्तन एवं वर्ण विक्षेपण
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर देखे
अपवर्तन, परावर्तन एवं वर्ण विक्षेपण

(3) प्रकाश तंतु संचार निम्न में से किस घटना पर आधारित है?

  • पूर्ण आन्तरिक परावर्तन
  • प्रकीर्णन
  • परावर्तन
  • व्यतिकरण
उत्तर देखे
पूर्ण आन्तरिक परावर्तन

(4) प्रकाश किस प्रकार के कंपनों से बनती है?

  • ईथर-कण
  • वायु-कण
  • विद्युत् और चुम्बकीय क्षेत्र
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर देखे
विद्युत् और चुम्बकीय क्षेत्र

(5) निम्नलिखित में किसे प्रकाश के तरंग-सिद्धांत से नहीं समझा जा सकता है?

  • परावर्तन
  • अपवर्तन
  • विवर्तन
  • प्रकाश-विद्युत प्रभाव
उत्तर देखे
प्रकाश-विद्युत प्रभाव

(6) द्वितीयक तरंगिकाओं की धारणा के आविष्कारक हैं?

  • फ्रेनेल
  • मैक्सवेल
  • हाइजेन
  • न्यूटन
उत्तर देखे
घटता है

(7) विद्युत-चुम्बकीय तरंग को ध्रुवित किया जा सकता है?

  • लेंस द्वारा
  • दर्पण द्वारा
  • पोलैरॉइड
  • प्रिज्म द्वारा
उत्तर देखे
पोलैरॉइड

(8) शुद्ध स्पेक्ट्रम प्राप्त किया जाता है?

  • सूक्ष्मदर्शी से
  • स्फेरोमीटर से
  • स्पेक्ट्रोमीटर से
  • प्रिज्म से
उत्तर देखे
स्पेक्ट्रोमीटर से

(9) आसमान का रंग नीला दिखने का कारण है –

  • प्रकीर्णन
  • व्यतिकरण
  • ध्रुवण
  • विवर्तन
उत्तर देखे
प्रकीर्णन

(10) प्रकाश किरणों के तीखे कोट पर मुड़ने की घटना को कहते हैं –

  • अपवर्तन
  • विवर्तन
  • व्यतिकरण
  • ध्रुवण
उत्तर देखे
विवर्तन

 

Leave a Comment