अध्याय: 4 रासायनिक आबंधन तथा आण्विक संरचना

1. दो समान या असमान परमाणुओं के मध्य परस्पर समान इलेक्ट्रॉनों के साझे के द्वारा बनने वाला आबन्ध कहलाता है।

  • उपसहसंयोजक आबन्ध
  • आयनिक आबन्ध
  • सहसंयोजक आबन्ध
  • धात्विक आबन्ध
उत्तर
सहसंयोजक आबन्ध

2. निम्न अणुओं में से कार्वनकार्बन अन्ध लम्वाईकिस अणु में सबसे कम है।

  • एथेन
  • एथीन
  • एथाइने
  • बेन्जीन
उत्तर
एथाइने

3. अधातु परमाणुओं के मध्य प्रायः बनता है।

  • सहसंयोजक आबन्ध
  • धात्विक आबन्ध
  • आयनिक आबन्ध
  • आयनिक तथा धात्विक आबन्ध
उत्तर
सहसंयोजक आबन्ध

4. निम्नलिखित में से कौन सा कोण sp2 संकरण से संबंधित है ?

  • 90°
  • 120°
  • 180°
  • 109°
उत्तर
120°

5. K4[Fe(CN)6] में किस प्रकार के बन्ध उपस्थित हैं?

  • आयनिक बन्ध और सहसंयोजक बन्ध
  • आयनिक बन्ध और उपसहसंयोजक बन्ध
  • सहसंयोजक बन्ध और उपसहसंयोजक बन्ध
  • आयनिक बन्ध, सहसंयोजक बन्ध और उपसहसंयोजक बन्ध
उत्तर
आयनिक बन्ध, सहसंयोजक बन्ध और उपसहसंयोजक बन्ध

6. निम्नलिखित में से कौन-सा:आबन्ध दिशात्मक नहीं है?

  • ध्रुवीय सहसंयोजक आबन्ध’
  • उपसहसंयोजक आबन्ध
  • आयनिक आबन्थे
  • अध्रुवीय सहसंयोजक आबन्ध
उत्तर
आयनिक आबन्थे

7. निम्नलिखित में से कौन-सा:आबन्ध दिशात्मक नहीं है?

  • ध्रुवीय सहसंयोजक आबन्ध’
  • उपसहसंयोजक आबन्ध
  • आयनिक आबन्थे
  • अध्रुवीय सहसंयोजक आबन्ध
उत्तर
आयनिक आबन्थे

8. निम्नलिखित में से किसमें ध्रुवीय तथा अध्रुवीय आबन्ध दोनों हैं?

  • NH4Cl
  • HCN
  • CH4
  • H2O2
उत्तर
H2O2

9. निम्न अणुओं में से कार्वनकार्बन अन्ध लम्वाईकिस अणु में सबसे कम है।

  • एथेन
  • एथीन
  • एथाइने
  • बेन्जीन
उत्तर
एथाइने

10. H2Sकी ज्यामिति तथा द्विध्रुव आघूर्ण है।

  • कोणीय तथा अशून्य
  • कोणीय तथा शून्य
  • रैखिक तथा अशून्य
  • रैखिक तथा शून्य
उत्तर
कोणीय तथा अशून्य

Leave a Comment