अध्याय 4: रासायनिक बल गतिकी

1. A→ B का परिवर्तन द्वितीय कोटि की अभिक्रिया है। यदि A का सान्द्रण दुगुणा कर दिया जाय तो प्रतिक्रिया की दर निम्नलिखित में कौन-सा गुणक से बढ़ता है?

  •  ¼
  •  2
  •  ½
  •  4
View Answer
   4

2. अधिकांश प्रतिक्रियाओं के लिए ताप गुणक निम्नलिखित में किसके बीच होता है?

  • 1 एवं 3
  • 2 एवं 3
  • 1 एवं 4
  • 2 एवं 4
View Answer
2 एवं 3

3. जल में H2(g) + CI2(g) =2HCI अभिक्रिया की कोटि है

  •  3
  • 2
  • 1
  • 0
View Answer
0

4. निम्नलिखित में कौन प्रथम कोटि की अभिक्रिया के वेग-स्थिरांक की इकाई है?

  • time–1
  •  mol litre-1sec-1
  • Litre mol-1sec-1
  •  Litre mol-1 sec
View Answer
  time–1

5. प्रथम कोटि प्रतिक्रिया के 99.9% पूर्ण होने के लिए कितनी औसत आयु की आवश्यकता होगी?

  •  2.31
  •  6.93
  • 9.23
  • अनंत
View Answer
 6.93

6. K4[Fe(CN)6] में Fe का प्रसंकरण है।

  •  sp3
  • dsp3
  • d2sp3
  • dsp2
View Answer
  d2sp3

7. किसी प्रथम कोटि की अभिक्रिया के लिए अर्द्ध जीवन काल स्वतंत्र है।

  • अंतिम सान्द्रण के प्रथम घात का
  •  प्रारंभिक सांद्रता के तृतीय घात का
  • प्रारंभिक सान्द्रता का
  •  अंतिम सान्द्रण का वर्ग का
View Answer
प्रारंभिक सान्द्रता का

8. किसी अभिक्रिया के लिए सक्रियन ऊर्जा का मान निर्धारित किया जा सकता है

  •  दो विभिन्न तापक्रम पर गति स्थिरांक का मान ज्ञात कर
  • दो विभिन्न तापक्रम पर अभिक्रिया का वेग ज्ञात कर
  • परम ताप पर अभिक्रिया का गति स्थिरांक ज्ञात कर
  • अभिक्रिया का सान्द्रण परिवर्तित कर
View Answer
   दो विभिन्न तापक्रम पर गति स्थिरांक का मान ज्ञात कर

9. अभिक्रिया 2FeCI2 + SnCl2 → 2FeCl2+ SnCI4 एक उदाहरण है

  • तृतीय कोटि की अभिक्रिया
  •  प्रथम कोटि की अभिक्रिया
  • द्वितीय कोटि की अभिक्रिया
  • इनमें से कोई नहीं
View Answer
तृतीय कोटि की अभिक्रिया

10. अभिक्रिया A + 2B → C के लिए वेग R = [A] [B]2 द्वारा व्यक्त किया जाता हो तो अभिक्रिया की कोटि है।

  •  3
  • 6
  • 5
  •  7
View Answer
 3

 

Leave a Comment