अध्याय 5: पृष्ठ रसायन

1. कोलॉइडी विलयन में कोलॉइडी कणों का आकार होता है –

  •  10-6 – 10-9 m
  •  10-9 – 10–12 m
  •  10–5 – 10-9 m
  • 10-12 – 10–19 m
उत्तर
 10-6 – 10-9 m

2. निम्नलिखित में किस धातु का निष्कर्षण मैक आर्थर विधि से किया जाता है?

  • Ag
  •  Fe
  • Cu
  • Na
उत्तर
Ag

3. किसी गैस के ठोस सतह पर अधिशोषण की मात्रा निर्भर करती –

  • गैस के ताप पर
  •  गैस के दाब पर
  • गैस की प्रवृत्ति पर
  • उपर्युक्त में सभी पर
उत्तर
उपर्युक्त में सभी पर

4. निम्नलिखित में कौन-सी धातु प्रकृति में मुक्त अवस्था में पायी जाती –

  • सोडियम
  • लोहा
  • जिंक
  • प्लैटिनम
उत्तर
प्लैटिनम

5. ब्राउनियन गति का कारण है –

  • द्रव अवस्था में ताप का उतार-चढ़ाव
  • कोलॉइडी कणों पर आवेश का आकर्षण-प्रतिकर्षण
  •  परिक्षेपन माध्यम के अणुओं का कोलॉइडी कणों पर संघात
  • कणों का आकार
उत्तर
 परिक्षेपन माध्यम के अणुओं का कोलॉइडी कणों पर संघात

6. ठोस पदार्थ पर किसी द्रव का परिक्षेपन कहलाता है।

  • सॉल
  • जैल
  • पायस
  • फोम
उत्तर
  जैल

7. आइसक्रीम के निर्माण में जिलेटिन का उपयोग किया जाता है क्योंकि

  • जिलेटिन से आइसक्रीम का स्वाद अच्छा हो जाता है
  • जिलेटिन बर्फ के कणों को बांधे रखती है।
  •  जिलेटिन बर्फ के कणों का स्कंदन से रक्षण करती है
  •  जिलेटिन आइसक्रीम का मूल्य घटाने के लिए मिलायी जाती है
उत्तर
 जिलेटिन बर्फ के कणों का स्कंदन से रक्षण करती है

8. बादल, कुहरा, कुहासा द्रव-गैस कोलॉइडी ऐरोसॉल है। धूम (smoke) किस प्रकार का कोलॉइडी तंत्र है?

  •  ठोस-गैस
  •  गैस-द्रव
  • द्रव-गैस
  • गैस-ठोस
उत्तर
   ठोस-गैस

9. स्वर्ण संख्या सबसे कम होती है –

  • जिलेटिन में
  • अण्डे के एल्बुमिन में
  •  गोंद में
  •  स्टार्च में
उत्तर
जिलेटिन में

10. कुहरा निम्न में से किस प्रकार के कोलॉयडल सिस्टम का उदाहरण है –

  • गैस का द्रव में विलयन
  • द्रव का गैस में विलयन
  •  ठोस का द्रव में विलयन
  • द्रव का द्रव में विलयन
उत्तर
द्रव का गैस में विलयन

11. पृष्ठ पर किसी आणविक स्पीशिज के केन्द्रीकरण की घटना कहलाती है-

  • अवशोषण
  • अधिशोषण
  • संगुणन
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर
अधिशोषण

12. आरोपित वैधुत क्षेत्र में कोलॉइडी कणों की गति कहलाती है-

  • अपोहन
  • वैधुत कण संचलन
  • वैधुत अपोहन
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर
वैधुत कण संचलन

13. निम्न में से कौन लायोफिलिक कोलॉयड है।

  • दूध
  • गोंद
  • कुहासा
  • रक्त
उत्तर
दूध

14. टिन्डल प्रभाव पाया जाता है-

  • विलयन में
  • अपक्षेप में
  • सॉल में
  • वाष्पों में
उत्तर
सॉल में

15. भौतिक अधिशोषण हेतु सही नहीं है-

  • अधिशोषण ताप के साथ बढ़ता है
  • अधिशोषण स्वतः होता है
  • अधिशोषण की एन्थैल्पी एवं एन्ट्रॉपी दोनों (-)ve होती है
  • ठोस पर अधिशोषण की प्रकृति उत्क्रमणीय होती है
उत्तर
अधिशोषण ताप के साथ बढ़ता है

16. अधिशोषण सभी दशाओं में उपयोगी है, सिवायः

  • रंगहीन करने में
  • समांगी उत्प्रेरण में
  • अक्रिय गैसों का पृथक्करण में
  • आर्द्रता निरोधन में
उत्तर
समांगी उत्प्रेरण में

17. ठोस की सतह पर गैस के अधिशोषण के सन्दर्भ में कौन-सा कथन सही नहीं-

  • ताप बढ़ने पर अधिशोषण की मात्रा बढ़ जाती है
  • एन्थैल्पी व एन्ट्रोपी परिवर्तन ऋणात्मक होते हैं
  • रासायनिक अधिशोषण भौतिक की अपेक्षा अधिक विशिष्ट होता है
  • यह उत्क्रमण क्रिया है
उत्तर
ताप बढ़ने पर अधिशोषण की मात्रा बढ़ जाती है

18. भौतिक अधिशोषण में गैस के कण ठोस सतह पर किस बल द्वारा बंधे रहते-

  • रासायनिक बल
  • वैधुत बल
  • गुरुत्वीय बल .
  • वाण्डर वाले बल
उत्तर
वाण्डर वाले बल

19. कौन-सा कथन रसोवशोषण हेतु प्रयोज्य नहीं है।

  • ये ताप से स्वतंत्र होते हैं
  • ये अति विशिष्ट होते हैं
  • ये मंद होते हैं
  • ये उत्क्रमणीय होते हैं
उत्तर
ये ताप से स्वतंत्र होते हैं

20. किसके द्वारा दूध को कुछ समय के लिए सुरक्षित किया जा सकता है-

  • फार्मिक एसिड विलयन
  • फारमल्डिहाइंड विलयन
  • एसिटिक एसिड विलयन
  • एसिटल्डिहाइड विलयन
उत्तर
फारमल्डिहाइंड विलयन

2 thoughts on “अध्याय 5: पृष्ठ रसायन”

Leave a Comment