अध्याय 11: विकिरण तथा द्रव्य की द्वैत प्रकृति

(1) प्रकाश-विद्युत् प्रभाव होता है?

  • प्रकाश के तरंग-प्रकृति के कारण
  • प्रकाश के कण-प्रकृति के कारण
  • दोनों ही कारणों से
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर देखे
प्रकाश के कण-प्रकृति के कारण

(2) जब किसी इलेक्ट्रॉन का वेग बढ़ जाता है, तो उसकी दे ब्रॉग्ली तरंगदैर्घ्य

  • बढ़ती है।
  • घटती है।
  • समान रहती है।
  • बढ़ या घट सकती है।
उत्तर देखे
घटती है।

(3) दिए हुए किस धातु का न्यूनतम कार्य-फलन है?

  • सोडियम
  • बेरियम
  • लोहा
  • ताँबा
उत्तर देखे
सोडियम

(4) प्रकाश-विद्युत् प्रभाव में उत्सर्जित प्रकाश इलेक्ट्रॉनों की गतिज ऊर्जा समानुपाती होती है

  • आपतित प्रकाश की आवृत्ति के वर्ग के
  • आपतित प्रकाश की आवृत्ति के
  • आपतित प्रकाश के तरंगदैर्घ्य के
  • आपतित प्रकाश के तरंगदैर्घ्य के वेग के
उत्तर देखे
आपतित प्रकाश की आवृत्ति के

(5) पदार्थ तरंग की तरंगदैर्घ्य किस पर निर्भर नहीं करती है ?

  • द्रव्यमान
  • वेग
  • संवेग
  • आवेश
उत्तर देखे
आवेश

(6) निम्न में से किसकी विमाएँ प्लांक नियतांक के समान होगी?

  • बल x समय
  • बल x दूरी
  • बल x चाल
  • बल x दूरी x समय
उत्तर देखे
बल x दूरी x समय

(7) समान गतिज ऊर्जा वाले इन कणों में से किसकी दे ब्रॉग्ली तरंगदैर्घ्य अधिकतम होती है ?

  • इलेक्ट्रॉन
  • एल्फा कण
  • प्रोटॉन
  • न्यूट्रॉन
उत्तर देखे
इलेक्ट्रॉन

(8) फोटो सेल आधारित है?

  • प्रकाश-विद्युत् प्रभाव पर
  • धारा के रासायनिक प्रभाव पर
  • धारा के चुम्बकीय प्रभाव पर
  • विद्युत्-चुम्बकीय प्रेरण पर
उत्तर देखे
प्रकाश-विद्युत् प्रभाव पर

(9) प्रकाशविद्युत धारा का अधिकतम मान कहलाता है –

  • आधार धारा
  • सन्तुष्ट धारा
  • संग्राहक धारा
  • उत्सर्ज धारा
उत्तर देखे
सन्तुष्ट धारा

(10) कार्य-फलन आवश्यक ऊर्जा है?

  • परमाणु को उत्तेजित करने के लिए
  • एक्स-किरणों को उत्पन्न करने के लिए
  • एक इलेक्ट्रॉन को सतह से ठीक बाहर निकालने के लिए
  • परमाणु की छानबीन के लिए

 

उत्तर देखे
एक इलेक्ट्रॉन को सतह से ठीक बाहर निकालने के लिए

Leave a Comment