अध्याय 10. संविधान का राजनीतिक दर्शन

1. भारतीय संविधान के किस अनुच्छेद में संशोधन की प्रक्रिया का वर्णन है ?

  • अनुच्छेद 365
  •  अनुच्छेद 368
  •  अनुच्छेद 366
  • अनुच्छेद 370
उत्तर
अनुच्छेद 368

2. ‘ स्वराज्य मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और इसे मैं लेकर रहूँगा ‘ यह कथन किनका है ?

  • गोपाल कृष्ण गोखले
  • लोकमान्य तिलक
  • महात्मा गाँधी
  • सुभाष चन्द्र बोस
उत्तर
लोकमान्य तिलक

3. ‘ करो या मरो ‘ का नारा किसने दिया ?

  • जवाहरलाल नेहरू
  • सुभाषचंद्र बोस
  •  भगत सिंह
  • महात्मा गाँधी
उत्तर
महात्मा गाँधी

4. कब भारत को एक निरपेक्ष राज्य घोषित किया गया ?

  • 1956
  • 1976
  • 1970
  • 1949
उत्तर
1976

5. भारतीय संविधान का आधारभूत दर्शन क्या है ?

  • उदारवाद
  • लोकतांत्रिक समाजवाद
  • वैज्ञानिक समाजवाद
  • गाँधीवाद
उत्तर
लोकतांत्रिक समाजवाद 

6. संविधान सभा के किस सदस्य ने समाजवाद का समर्थन किया था ?

  • सरदार पटेल
  •  टी ० टी ० कृष्णमाचारी
  • जवाहरलाल नेहरू
  •  के ० एम ० मुंशी
उत्तर
जवाहरलाल नेहरू

7. पूर्ण स्वराज्य का आह्वान किसने किया था ?

  • जवाहरलाल नेहरू
  • महात्मा गाँधी
  • सुभाषचंद्र बोस
  •  सरदार पटेल
उत्तर
जवाहरलाल नेहरू 

8. भारतीय संविधान पर निम्नलिखित में से किसने सर्वाधिक प्रभाव छोड़ा ?

  • ब्रिटिश संविधान
  • ऑस्ट्रेलिया का संविधान
  • भारत सरकार अधिनियम
  • अमेरिका का संविधान
उत्तर
  भारत सरकार अधिनियम 

9. भारत की संविधान सभा गठित करने का आधार क्या था ?

  • भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस ,
  • कैबिनेट मिशन प्लान , 1946
  • भारतीय स्वतंत्रता अधिनियम , 1947
  •  राज्य विधान मण्डल के प्रस्ताव
उत्तर
  कैबिनेट मिशन प्लान, 1946

10. भारतीय संविधान में है?

  • 300 से अधिक आर्टिकल्स
  • 350 से अधिक आर्टिकल्स
  • 400 से अधिक आर्टिकल्स
  • 500 से अधिक आर्टिकल्
उत्तर
350 से अधिक आर्टिकल्स

1 thought on “अध्याय 10. संविधान का राजनीतिक दर्शन”

Leave a Comment